सूर्य ही हमारी पृथ्वी पर दिन और रात का कारण बनता है। उन्हीं की वजह से धरती पर जीवन संभव है। सूर्य रहित पृथ्वी की कल्पना करना कठिन है।

जैसे मनुष्य और अन्य जानवर ठंडे हो जाते हैं, वैसे ही सूर्य भी ठंडा हो जाता है। आपको बता दें कि करोड़ों सालों से पूरे विश्व को रोशनी देने वाला सूरज भी मंद पड़ रहा है।  

उनकी उम्र को लेकर कुछ खास बातें सामने आई हैं। 

सूर्य का अंत धीरे-धीरे निकट आ रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, सूरज कुछ समय बाद ठंडा होना शुरू होगा और धीरे-धीरे गायब हो जाएगा। 

सूर्य लगातार तेज जल रहा है और एक कोरोनल मास इजेक्शन के दौर से गुजर रहा है। 

सूर्य इस स्थान में वर्षों से है। सूर्य अब 4.57 करोड़ वर्ष पुराना है। हमारी दुनिया का बेहद सटीक नक्शा बनाने वाले गैया अंतरिक्ष यान ने कुछ चौंकाने वाली जानकारियां दी हैं.

कहा जा रहा है कि सूर्य अपने मध्ययुग में पहुंच गया है, सूर्य से धीरे-धीरे सनस्पॉट टूट रहे हैं। 

कुछ बिंदु पर यह हाइड्रोजन से बाहर निकलेगा और विखंडन की प्रक्रिया शुरू करेगा। 

वह अब 4.57 करोड़ साल और अधेड़ उम्र के हैं। इसमें अभी भी 4.57 मिलियन वर्ष शेष हैं। 

फिर इसके विघटन की प्रक्रिया शुरू होगी, 1000 करोड़ वर्ष बाद सूर्य का अंत होगा।